दिल्ली से सटे गाजियाबाद में पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है, जो चंद पैसों के लिए मोबाइल के आईएमईआई नंबर बदल देता था. पुलिस ने इसके कब्जे से 93 मोबाइल फोन, लैपटॉप सहित आईएमईआई नंबर बदलने वाली मशीन बरामद की है. पुलिस हिरासत में आरोपी से पूछताछ की जा रही है.जानकारी के मुताबिक, फर्स्ट क्लास ग्रेजुएट तस्लीम ने थोड़े से पैसे के लिए देश की सुरक्षा ताक पर रख दी. तस्लीम पढ़ाई में तेज था. उसने एक बार यूट्यूब पर मोबाइल के आईएमईआई नंबर बदलने का वीडियो देखा. इसके बाद वह चोरों से मोबाइल फोन लेकर उसका आईएमईआई बदलता और बेच देता था.

 

पुलिस पूछताछ में तस्लीम ने बताया कि उसने फेसबुक पर ऐसे लोगों को सर्च किया, जो इस काम में मास्टर हैं. इसी तलाश में उसे पाकिस्तान के एक शख्स का लिंक मिला. वो उसके साथ जुड़ गया. पाकिस्तानी शख्स ने उसे एक व्हाट्सऐप ग्रुप में जोड़ा, जिसमें पाकिस्तान, बांग्लादेश और चीन के लोग भी जुड़े हुए हैं.

पुलिस इसे देश की सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा मान रही है. तस्लीम और उसके साथी जाहिद गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन अभी इसके दो साथी फरार हैं. तस्लीम को एक मोबाइल के आईएमईआई नंबर बदलने में दो घंटे का वक्त लगता था. हर मोबाइल पर उसे करीब डेढ़ हजार का फायदा होता था.

Powered by funtoosblog.com